Header Ads

अटल बिहारी वाजपेयी जी के Motivational & Inspirational Quotes हिंदी में Images

भारत रत्न श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी एक बहुत ही प्रेरणादायक और लेखक होने के साथ साथ हमारे देश के पूर्व प्रधान मंत्री भी थे | अटल जी ने  (1924-2018) 93 ki Umar me apna jivan kaam purn kiya. Shri Atal Bihari Vajpayee Ji Ke Motivational & Inspirational Quotes Aapko Mushkil Samaye me aapko Sahas dene me bahot madad karenge.




Shri अटल बिहारी वाजपेयी जी के Motivational & Inspirational Quotes  हिंदी में 


1. सूर्य एक सत्य है, जिसे झुठलाया नहीं जा सकता। मगर ओस भी तो एक सच्चाई है, यह बात अलग है कि  क्षणिक है।

2. जलना होगा, गलना होगा।
कदम मिलाकर चलना होगा।

3. पेड़ के ऊपर चढ़ा आदमी; ऊंचा दिखाई देता है। जड़ में खड़ा आदमी, नीचा दिखाई देता है। न
आदमी ऊंचा होता है, न नीचा होता है; न बड़ा होता है, ना छोटा होता है। आदमी सिर्फ आदमी होता है।

4. हराम में भी राम होता है।

5. किसी संत कवि ने कहा है कि मनुष्य के ऊपर कोई नहीं होता; मुझे लगता है कि मनुष्य के ऊपर उसका मन होता है।

6. मैं अटल हूं.....मैं बिहारी भी हूं।

7. छोटे मन से कोई बड़ा नहीं होता,
टूटे मन से कोई खड़ा नहीं होता।


Shri Atal Bihari Vajpayee Ji Inspirational Quotes,Shayari, in Hindi Images Photos 







8. पड़ोसी कहते हैं कि एक हाथ से ताली नहीं बजती, हमने कहा की चुटकी तो बज सकती है।

9. मन हारकर मैदान नहीं जीते जाते; न मैदान जीतने से मन ही जीते जाते हैं।

10. आपका मित्र बदल सकता है लेकिन पड़ोसी नहीं।

11. आदमी को चाहिए कि वह  परिस्थितियों से लड़े; एक स्वप्न टूटे तो दूसरा गढ़े।

12. मनुष्य का जीवन अनमोल निधि है। पुण्य का प्रसाद है। हम केवल अपने लिए न जिएं, औरों के लिए भी जिए ।जीवन जीना एक कला है। एक विज्ञान है दोनों का समन्वय आवश्यक है।

13. आदमी की पहचान उसके धन या आसन से नहीं होती; उसके मन से होती है। मन की फकीरी पर कुबेर की संपदा भी रोती है।

14. कपड़ों की दूधिया सफेदी जैसे मन की मलिनता को नहीं छिपा सकती।

15. जो जितना ऊंचा होता है; उतना ही एकाकी होता है। हर बार को स्वयं ही ढोता है, चेहरे पर मुस्कान चिपका; मन ही मन में रोता है।

16. ऐसी खुशियां जो हमेशा हमारा साथ दें। कभी नहीं थी, कभी नहीं है और कभी नहीं रहेंगी।




17. पृथ्वी पर मनुष्य ही एक ऐसा प्राणी है, जो भीड़ में अकेला और अकेले में भीड़ से घिरे होने का अनुभव करता है।

18. टूट सकते हैं मगर झुक नहीं सकते।


19. Mere Prabhu! Mujhe itani oonchaai kabhi mat dena,
Gairon ko gale na lagaa sakoon, Itani rukhaai kabhi mat dena


20. Maut ki umar kyaa hai? Do Pal bhi nahi,
Zindagi silsila, aaj kal ki nahi


21. Hone, na hone ka kram, Isi tarah chalta rahega,
Hum hain, hum rahenge, Yeh bhram bhi sadaa paltaa rahega


22. Daanv par sab kuchh lagaa hai, ruk nahi sakate,
Rook sakate hain magar, hum jhuk nahi sakate


23. मेरे लिए सत्‍ता कभी आकर्षण की चीज नहीं रही.





















No comments